sfdfdf

अमीर बनने का सबसे शानदार, जल्द और सम्मानीय रास्ता – होटल मैंनेजमेंट कोर्स

समझ नहीं आ रहा है कि क्या करूं. दिमाग की दही हो गई है. किस करियर को पकड़ूं किसको नहीं समझ नहीं आ रहा है. घरवालों का प्रेशर पड़ रहा है सो अलग. यही स्थिति उनकी भी है जिन्होंने पढ़ाई पूरी कर ली है. अब नौकरी की तलाश में भटक रहे हैं. लेकिन नौकरी मिल नहीं रही है.

नौकरी मिल भी रही है तो 8 से 12 हजार रुपये महीने के बीच की. अब इसमें तो जीवन नहीं खपाया जा सकता ना. देगा 10-12 हजार लेकिन लंगेगे पूरे 10 से 12 घंटे. कैसे बनेगी बात. नौकरी करता हूं तो पैसे कम आते हैं. कुछ सीखता हूं या अलग करना चाहता हूं तो सामने घर का खर्चा चलाने की मुश्किल सामने खड़ी हो जाती है.

तो यह स्थित बारहवीं कर रहे या कर चुके विद्यार्थियों और डिग्री कर चुके या बीच में पढ़ाई छोड़ चुके युवकों के सामने आज खड़ी हो गई है. पैसा कमाना चाहते हैं. लेकिन कोई रास्ता नहीं मिल रहा है. कोई भी काम सीख लो एक तो उसके हजार झंझट उसके बाद कमाई उतनी ही की बस दुनिया में जिंदा रह सकें. अमीर नहीं बन सकते. बिल्कुल भी नहीं बन सकते.

लेकिन मैं एक तरीका बताता हूं. कोई शार्ट कट नहीं है. मेहनत लगेगी. लेकिन इतना तय है टाइम इतना नहीं लगेगा. नहीं मैं कोई मल्टिलेवल मार्केटिंग या ऑनलाइन फंडा नहीं बताने जा रहा हूं. सिंपल है. अमीर बनना है. जल्दी पैसा कमाना है तो अमीरों के सर्कल में शामिल हो जाओ.

यह भी पढ़ें12वीं के बाद क्या करें. इंटरनेशनल होटल मैनेजमेंट में तुरंत नौकरी और शानदार पैसा

अभी आप क्या करते हैं. ऐसे दोस्तों या सर्कल में रहते हो जो खुद हैंड टू माउथ हैं. या तो बेरोजगार हैं या इधर-उधर ठाले घूमते हैं या फोन पर लगे रहते हैं. अब भूखनंगों के सर्कल में रहोगे तो किस्मत नहीं बदलने वाली है. किस्मत तभी बदलोगे जब आप अमीरों के सर्कल में शामिल हो जाओगे.

अब सवाल आता है कि अमीरों के सर्कल में कैसे शामिल हों. उनका दरबार तो हमें तुरंत ही दरवाजे के बाहर रोक देता है. और वो जाने भी दे तो हम उनसे बात क्या करेंगे. अब हम कहेंगे कि हमें अपने अमीरों के सर्कल में शामिल कर लो तो यह भी संभव नहीं है. वे उठवाकर बाहर फिंकवा देंगे. फिर कैसे बनेगी बात.

सबसे पहले यह पता लगाने की कोशिश करते हैं कि अमीर आदमी मिलते कहां-कहां हैं. वे आपको मिलेंगे अच्छे आफिस में. अच्छे फाइव या सेवन स्टार होटल में. मंहगे क्लब्स में. बार में. शानदार रेस्ट्रां में. एयरपोर्ट पर. पर्यटन की जगहों पर. आदि-आदि.

अब कुछ समझ में आया कि हम उन्हें कहां रोज और लगातार मिल सकते हैं. जीं हां, होटल, रेस्ट्रां, बार या क्लब में. अब इन मंहगे-मंहगे होटलों, बार और क्लबों में हमारी एंट्री कैसे होगी. क्योंकि रोज-रोज तो हम जाकर 5 हजार रुपए की कॉफी या चाय नहीं पी सकते.

यह भी पढ़ेंNCHMCT JEE 2020 in Hindi

तो फिर ऐसा क्या करें कि हम उनसे तकरीबन रोज-रोज मिल सकें. जवाब आसान है. वेटर बनें या रिसेप्सिनिस्ट. क्योंकि यही वे लोग होते हैं जो सीधे मेहमानों के संपर्क में आते हैं. और लगातार आते हैं. बस आपको करना इतना ही है. वैल मेनर्ड हों. वैल बिहेव्ड हों. तरीके से और सम्मान के साथ दूसरों से बात करने वाले हों. साफ-सुथरे और हमेशा खुश मिज़ाज हों.

वेटर, रिसेप्सिनिस्ट आप होटल मैनेजमेंट का कोर्स करके बन सकते हैं. लेकिन मैं यहां यही सलाह दूंगा कि होटल मैंनेजमेंट का यह कोर्स विदेश से किसी युनिवर्सिटी से करें. हैदराबाद में सरस्वती विस्डम एकेडमी ऐसा ही डिप्लोमा/ डिग्री कोर्स थाईलेंड की पाथुमथानि युनिवर्सिटी से कराती है.

होटल मैंनेजमेंट का कोर्स करना ही काफी नहीं है. यह तो वो टिकट है जिसकी मार्फत आप उस ‘जगह’ तक पहुंच जाते हैं जहां अमीर लोग और औरतें अपना दिन और शाम तो जरूर गुजारते ही हैं.

होटल मैनेजमेंट स्कॉलर्स के अलावा आपको जिसक होटल, रेस्ट्रां, क्लब या बार में आप काम कर रहे हैं उसके आस-पास की आपको पूरी जानकारी होनी चाहिए.

  • होटल, ट्रेवलिंग और खान-पान से जुड़ी हर बातों की आपको अपडेट्ड जानकारी हो.
  • जिस शहर या राज्य में आप काम करते हों उसके पर्यटन, धार्मिक और आध्यात्मिक स्थानों की जानकारी हो.
  • ट्रैन, बस और हवाई-यातायात की जानकारी आपकी टिप्स पर हो.
  • शहर के अच्छे जिम या जिम इंस्ट्रक्टर, अच्छे डॉक्टर या मसाज करने वाली की जानकारी आपके पास हो.
  • बच्चों को क्या अच्छा लगता है. यह आपको अच्छे से पता होना चाहिए. क्योंकि अमीर गेस्ट के साथ बच्चे आए हैं और आपने उनका अच्छे से ख्याल रखा तो आप तय मानना कि वो गेस्ट आपको अपनी पूरी जिंदगी में कभी नहीं भूलेगा.
  • आपकी अपने काम के प्रति निष्ठा, लगन और जानकारी ही आपको दूसरों से अलग खड़ा करके रख देगी. क्योंकि आज की इस दुनिया में हर कोई ऐसा बंदा चाहता है जो अपना काम सलीके से करता हो. शिष्टाचार के साथ बात करता हो. दूसरों की अहमियत समझता हो. बच्चों, बुजुर्गों और महिलाओं के साथ सलीके से पेश आता हो. और अपने आत्म-सम्मान को पूरी अहमियत देता हो.

क्योंकि जिंदगी में सफल आदमी जो अक्सर अमीर ही होते हैं कि नजर हर जगह होती है. वे पकड़ ही लेते हैं सलीके वाले बंदे को. और शामिल कर लेते हैं अपनी टीम में. जिंदगी हैं.

ऐसे बहुतेरे उदाहरण हैं…

महेन्द्र सिंह धोनी ने पत्नी साक्षी को एक होटल में रिसेप्शिनिस्ट के रूप में काम करते देखा और पहली ही नजर में दिल दे बैठे.

 

 

मशहूर हॉलीवुड फिल्म स्टार और ऑस्कर विनर जैफ ब्रिज ने वैट्रस के रूप में काम करने वाली सुशान गेस्टन को अपना दिल दे दिया. उन्होंने सुशान को जब पहली बार डेट पर चलने को कहा तो सुशान ने तुरंत ना बोल दिया. अब वे पिछले 40 साल से साथ हैं.

 

 

एक और हॉलीवुड फिल्म स्टार और ऑस्कर विनर मैट डेमन ने एक बार टेंडर लुसियाना बारासो से शादी की. उनकी शादी को भी दो दशक से ज्यादा बीत चुके हैं.

 

 

यहां शादी की ही बात नहीं है. बात यह है कि यह वो जगह है जहां अमीर लोग आते हैं. अपना समय बिताते हैं और आप भी वहां होते हैं अपने पेशे की वजह से. बस, आप अपने आप से, अपने काम से ईमानदार रहिए. देखिए क्लिक जरूर होता है. क्योंकि वह जगह ही ऐसी है.

औसत नंबर और सामान्य बुद्धि के बावजूद आप बारहवीं के बाद सम्मान की नौकरी के साथ जल्दी अमीर बनना चाहते हैं तो विदेश से होटल मैनेजमेंट करने के लिए आप तुरंत सरस्वती विस्डम एकेडमी पर क्लिक करें. और आपका अमीरी का रास्ता खुल जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *